How to Start Agarbatti Business in Hindi 2022

भारतीय संस्कृति में अगरबत्ती का बहुत बड़ा महत्व है। और त्योहार के समय पर अगरबत्ती की बिक्री और ज्यादा बढ़ जाती है। अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) कम लागत में ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट देने वाले व्यापारों (Agarbatti Business in Hindi) में से एक है। इस व्यापार को चलाने के लिए कोई ख़ास Training की जरूरत नहीं होती है। आप अगरबत्ती बिजनेस घर बैठे बिना किसी स्टाफ को रखें भी चला सकते है। तो इस आर्टिकल में हम आपको अगरबत्ती Business से जुड़ी सारी जानकारी देंगे।

Agarbatti Business all details in Hindi

अगरबत्ती क्या होती है? | What is incense sticks?

 अगरबत्ती का इस्तेमाल पूजा पाठ  और खुशबू के लिए भी किया जाता है अगरबत्ती एक (Stick) स्टिक जैसे होती है जिसको जलने से सुगन्धित खुशबू आती है और अगरबत्ती का इस्तेमाल कीटनाशक के रूप में भी किया जाता है । इस बिजनेस में जोखिम बहुत ही कम है और अगरबत्ती  बनाने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है। अगरबत्ती का बिजनेस आप एक शहर से दूसरे शहर एक राज्य  से  दूसरे राज्य तक भी कर सकते हो।

अगरबत्ती बनाकर आप उसको अन्य देश एक्सपोर्ट भी कर सकते है दूसरे देश में जैसे यूएस, यूरोपीय देश, मलेशिया, भूटान, श्रीलंका, नेपाल को जहां इसकी डिमांड है। अगरबत्ती कई प्रकार की होती है जैसे की, वाइट अगरबत्ती, ब्लैक अगरबत्ती और सेंट वाली अगरबत्ती।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) चलाने के लिए योग्यता

अगरबत्ती बिजनेस चलने के लिए कोई विशेष योगिता की  आवश्यकता नहीं है  यह बिजनेस बहुत ही आसानी से चलाया जा सकने वाला बिजनेस हैं। अगरबत्ती बिजनेस एक कम लागत वाला बिजनेस प्लान है जिसे कोई भी चला सकता है। बस आप में कुछ करने की लगन होनी चाहिए। हर व्यक्ति अगरबत्ती बिज़नेस का काम ज्यादा से ज्यादा एक सप्ताह में सीख सकता है ।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) के लिए जगह की जरूरत

अगरबत्ती बिजनेस करने के लिए आपको कोई ख़ास लोकेशन या ख़ास जगह की जरूरत नहीं होती है। आप इसे अपने घर से भी सुरु कर सकते हैं। लेकिन आप मशीन के जरिये अपना बिज़नेस करने वाले है तो आपको ऐसी जगह लेनी चाहिए जिसमें वो मशीन आ जाये। 1 मशीन के लिए लगभग 50 स्क्वायर (Square) फ़ीट जगह की जरूरत होती है और 4 मशीन 200 स्क्वायर फ़ीट  जगह में। 1 मशीन के साथ अगरबत्ती बिज़नेस चलाने के लिए लगभग 100 स्क्वायर फ़ीट की जगह की जरूरत होती है।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) प्लान के लिए लागत

एक अगरबत्ती बिज़नेस में लागत मुख्य रूप से मशीन, कच्चा माल (Raw Material), जगह (Location), पैकेजिंग, बिजली बिल (Electricity Bill), वाटर बिल और स्टाफ पर डिपेंड करती है। इस व्यापार को घर बैठे भी खोला जा सकता है बिना किसी मशीन के न्यूनतम लागत में जिसे आप परिवार वालो की मदद से भी चला सकते है बिना किसी स्टाफ को रखे।

मशीन का उपयोग करके अगरबत्ती बिज़नेस चलने से अगरबत्ती अच्छी क्वालिटी की बनेगी और एक दिन में ज्यादा बना पाएंगे जिससे आप के हर दिन का लाभ (Profit) भी बढ़ जायेगा।

जरुरी मशीन: अगरबत्ती बिज़नेस चलाने के लिए आपको ज्यादा अगरबत्ती बनाने के लिए स्वचालित मशीन (automatic machine) की जरूरत होती है। आप हाथ से (manually) भी अगरबत्ती बना सकते है पर उससे उत्पादन (Production) कम और समय ज्यादा लगेगा। उतने ही समय में आप स्वचालित मशीन (automatic machine)  से ज्यादा और अच्छी क्वालिटी की अगरबत्ती बना सकते है।

अगरबत्ती बनाने की मशीन

जैसे एक दिन में आप मशीन से 12 घंटे में 75  से 100 किलोग्राम तक की अगरबत्ती का प्रो उत्पादन (Production)  कर सकते है। वही हाथ से (manually) अर्थात बिना मशीन के आप 60-70 किलोग्राम का ही उत्पादन कर पाएंगे 12 घंटे में जो कि किसी भी व्यक्ति के लिए लगातार 12 घंटे काम करना मुश्किल है।

इसके साथ ही आप मिक्सर और ड्रायर मशीन का भी उपयोग कर सकते है। ड्रायर मशीन होने से बारिश के समय पर फायदा होता है। आप इन दोनों मशीन को न भी ले तो कोई ख़ास कठिनाई की बात नहीं है।

अगरबत्ती बनाने की मशीन 3 प्रकार  की होती है। वो है मैन्युअल (Manual Machine), स्वचालित मशीन (Automatic Machine), हाई स्पीड मशीन (High Speed Machin) चलिए इसके बारे में जानते है:

मैन्युअल (Manual) अगरबत्ती मेकिंग मशीन: इस तरह की मशीन से अच्छी गुणवत्ता (Best Quality) की अगरबत्ती का उत्पादन किया जा सकता है। यह मशीन सिंगल पेडल या डबल पेडल की होती है और इसकी कीमत बाकि मशीन से कम होती है। इस तरह की मशीन से 60 सेकंड में 75-100 अगरबत्ती बनाई जा सकती है।

स्वचालित (Automatic Machine) अगरबत्ती मेकिंग मशीन:- ऑटोमेटिक मशीन की जरूरत तब पड़ती है जब आप बड़े लेवल पर अगरबत्ती का उत्पादन करना चाहते है। तब इस मशीन से आप 60 सेकंड में 150-170 अगरबत्ती का प्रोडक्शन कर सकते है।

हाई स्पीड (High Speed) अगरबत्ती मेकिंग मशीन:- हाई स्पीड अगरबत्ती बनाने वाली मशीन से अच्छी गुणवत्ता की अगरबत्ती के साथ-साथ ज्यादा मात्रा में  बनती है। High Speed Machine से  60 सेकंड में इस मशीन से लगभग 350-450 अगरबत्ती बना सकते है। इस मशीन को चलाने के लिए ज्यादा स्टाफ ( More Man Power) की जरूरत भी नहीं पड़ती। इस तरह की मशीन से बनी हुई अगरबत्ती की लंबाई 7.5 इंच से 13 इंच तक होती है।

अगरबत्ती ड्रायर मशीन (Incense Stick Dryer Machine): जब आप बड़े स्तर पर अगरबत्ती बनाते है तो आपको ड्रायर की जरूरत पड़ती है। छोटे स्तर पर अगरबत्ती को आप एयर ड्राई भी कर सकते है लेकिन धूप में नहीं सुखाना होता है। ड्रायर मशीन से आप 8 घंटे में 160 किलोग्राम अगरबत्ती ड्राई (सूखा) सकते है जिसकी कीमत 25 से 40 रुपए तक की हो सकती है।

अगरबत्ती प्रेमिक्स मिक्सर (Agarbatti Premix Mixer):- इस मशीन को छोटे स्तर के अगरबत्ती बिज़नेस प्लान में avoid कर सकते है और हाथों से प्रेमिक्स को मिला सकते है। लेकिन बड़े स्तर पर आप मिक्सर ले सकते है और इससे आपका काम जल्दी और अच्छे से हो जायेगा। इस मशीन की कीमत 25000 से 40000 तक हो सकती है।

चलिये अगरबत्ती बनाने के लिए सब मशीनों की कीमत जानते है:

मशीनकीमत (लगभग)जरूरी/वैकल्पिक
अगरबत्ती मेकिंग मशीनRs.20,000-50,000जरूरी
मिक्सरRs.20,000-40,000वैकल्पिक 
ड्रायर मशीनRs.15,000-25,000वैकल्पिक
कुलRs.55,000-115,000 

आप उसी जगह से ये मशीन लें जहां अच्छी सर्विसिंग की सुविधा हो और जो मशीन लगाने आये उससे आप मशीन के बारे में सारी जानकारी अच्छे से ले लें। ये कुछ वेबसाइट है जहां से आप मशीन की प्राइस देख और खरीद सकते है:

अगरबत्ती कच्चा माल(Raw Material): अगरबत्ती बनाने के लिए  आप प्रेमिक्स बना हुआ दूकान से भी ले सकते है या उससे बना भी सकते है। छोटे स्तर के बिज़नेस में आप खुद से ही बनाएँ जिसके लिए आपको कुछ बेसिक सामान की जरूरत पड़ेगी जो आपको अगरबत्ती बनाने में काम आएंगे। अगरबत्ती में उसका प्रेमिक्स सबसे ज्यादा जरुरी होता है इसलिए ये अच्छी क्वालिटी का होना चाहिए।

चलिये कुछ बेसिक अगरबत्ती कच्चा माल (Raw Material) के नाम और कीमत जानते है:

सामानसंख्याकीमत (लगभग)
चारकोल पाउडर1 किलोग्रामRs.15
गम पाउडर1 किलोग्रामRs.70
जिकिट पाउडर1 किलोग्रामRs.65
बम्बू स्टिक1 किलोग्रामRs.120
अगरबत्ती परफ्यूम1 पीसRs.500
डीईपी1 लीटरRs.125
 कुल895

आप नीचे बताई हुई वेबसाइट से इन सामानों की रेट चेक कर सकते है और खरीद भी सकते है:

पैकेजिंग (Packaging):- अगरबत्ती की अच्छी पैकेजिंग बहुत जरुरी है। इससे आपकी सेलिंग और क्वालिटी पर असर पड़ता है। अच्छी पैकेजिंग देखकर ग्राहक आकर्षित होते है। पैकेजिंग 2 तरह से हो सकती है, एक मशीन और दूसरी मैन्युअली (हाथ से)। मैन्युअली में आपको हाथ से गिनती करके पैकेट में डालना होता है और मशीन से आपको कॉंटेड अगरबत्ती मिलते है पर पैकेट में आप ही को पैक्ड करना होगा।

पैकेजिंग आप पैकेट या बॉक्स में कर सकते है और उसमें अपनी कंपनी का नाम भी प्रिंट करा सकते है। आपको पैकेट 1 से 10 रुपए तक पड़ जायेगा और बॉक्स 4 से 12 रुपए में।

एक छोटे लेवल पर अगरबत्ती बिज़नेस चलाने के लिए मशीन, कच्चा माल (Raw Material), पैकेजिंग, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल, इत्यादि का मिलाकर 60 से 70 हजार रुपए का खर्चा आएगा।

स्टाफ (Staff):– बड़े लेवल पर अगरबत्ती बिज़नेस प्लान के लिए आपको स्टाफ की जरूरत पड़ेगी जो अगरबत्ती बिज़नेस सही तरीके से चला सके। चलिए जानते है अच्छे से;

स्टाफनंबरसैलरी (लगभग)
प्रॉडक्शन मैनेजर1Rs.13,000-23,000
लेबर1Rs.8000-10,000
डिलिवरी करने वाला1Rs.9,000-12,000
 कुलRs.30,000-45,000

एक बड़े स्तर पर अगरबत्ती बिज़नेस खोलने के लिए मशीन, रॉ मटेरियल, पैकेजिंग, स्टाफ, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल का मिलाकर 85 हजार से 1 लाख 25 हजार तक का खर्चा आएगा।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) प्लान में मुनाफा

मसाला अगरबत्ती में आपको 10 से 18 रुपए प्रति किलोग्राम प्रॉफिट होता है। सेंट वाली अगरबत्ती में आपको मसाला अगरबत्ती से ज्यादा प्रॉफिट होता है जो कि 15 से 50 प्रति किलोग्राम तक होता है। इस हिसाब से आप मसाला अगरबत्ती के 2000-2500 किलोग्राम प्रोडक्शन से महीने में 25 से 30 हजार तक की कमाई कर सकते है और इतने ही सेंट वाली अगरबत्ती के प्रोडक्शन से आप महीने में 35 से 50 हजार तक कमा सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) शुरू करने के लिए कानूनी प्रक्रिया

एक छोटे अगरबत्ती बिज़नेस प्लान के लिए आप को  सरकार द्वारा दिए जाने वाले डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी। जरुरी डाक्यूमेंट्स की लिस्ट नीचे देख सकते है।

  • अपनी कंपनी को आरओसी  (Registrar of Companies) में पंजीकरण करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • बिजनेस पैन कार्ड (PAN Card) के लिए अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • Trade License  के लिए local authority में अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • किसी भी बैंक में करंट बैंक अकाउंट के लिए अप्लाई करें।
  • अपना बिजनेस एसएसआई यूनिट में रजिस्टर करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • VAT registration (वीएटी रजिस्ट्रेशन) के लिए अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

बड़े स्तर पर अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) के लिए 3  और  दस्तावेज़ की जरूरत पड़ेगी:

  • फैक्ट्री लाइसेंस (Factory License)
  • प्रदूषण नियंत्रण विभाग से एनओसी (NOC) चाहिए होगी।
  • जीएसटी रजिस्ट्रेशन (GST Registration)

अगरबत्ती बनाने का प्रोसेस (Incense Stick Making Process)

मुख्यतः अगरबत्ती 2 तरह की होती सेंट अगरबत्ती और मसाला अगरबत्ती। जिनको बनाने के लिए आपको प्रेमिक्स रेडी करना होता है:

1) आप चारकोल पाउडर, गम पाउडर, जिगित पाउडर के 1 किलोग्राम मिक्सचर में 600 ml या 625 ml पानी डालें और अच्छे से हाथ से मिलाएँ। आप प्रेमिक्स मिलाने के लिए मिक्सर मशीन का भी उपयोग कर सकते है।

वैसे आप को प्रेमिक्स बना बनाया भी 15 से 50 किलोग्राम  रुपए में मिल जाता है जो कि आप किसी भी लोकल दूकान से ले सकते है।

2) अब इस मिले हुए प्रेमिक्स को बम्बू स्टिक्स में पेस्ट करें। इस काम के लिए आप अगरबत्ती मेकिंग Machine का भी उपयोग कर सकते है। अगरबत्ती को एयर ड्राई करें। आपकी मसाला अगरबत्ती तैयार है।

3) सेंट वाली अगरबत्ती बनाने के लिए मसाला अगरबत्ती को सूखने के बाद 4:1 के अनुपात में डीईपी और परफ्यूम को मिलाएँ मतलब 4 लीटर डीईपी में 1 लीटर परफ्यूम (Perfume) मिलाएँ और इस मिक्सचर में ड्राई अगरबत्ती को डीईपी करके अगरबत्ती ड्राई कर लें। इस तरह सेंट वाली अगरबत्ती तैयार हो जाएगी।

अगरबत्ती बिजनेस में मार्केटिंग – Marketing in Agarbatti Business

अगरबत्ती व्यापार में मार्केटिंग  का बड़ा महत्व है इसलिए इसपर ख़ास ध्यान दें। आप अगरबत्ती की मार्केटिंग 2 तरह से कर सकते है:

1) ऑफलाइन मार्केटिंग (Offline Marketing):- आप अपने आस पास की जनरल स्टोर, मंदिर के पास वाले जनरल स्टोर पर संपर्क करें। आप अगरबत्ती के हॉल सेल मार्केटर से भी संपर्क कर सकते है।

आप अगरबत्ती दूसरे देशों में एक्सपोर्ट भी कर सकते है। आज के समय में भारत लगभग 125 देशों को अगरबत्ती एक्सपोर्ट करता है। इससे पता चलता है कि अगरबत्ती की मांग केवल भारत में ही नहीं बल्कि अन्य देश में भी है।

2) ऑनलाइन मार्केटिंग: आप में अपने बिज़नेस को ऑनलाइन Amazon ,Flipkart,Indiamart आदि पर रजिस्टर कर सकते है। अगरबत्ती बिज़नेस के लिए विज्ञापन भी बना सकते है जो कि टीवी और सोशल मीडिया पर चला सकते है साथ ही आप WebSite भी बना सकते है जिससे आपका प्रोमोशन भी होगा और आप उससे ऑर्डर भी ले सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) को बढ़ाने का तरीका

आप अपना अगरबत्ती बिज़नेस प्लान लोकल एरिया से शुरू करें; जैसे अपने आसपास की जनरल स्टोर, मंदिर के पास की जनरल स्टोर, दूकान जब यहाँ से अच्छा रिस्पोंस मिलने लगे तो आप एक शहर से दूसरे शहर में भी व्यापार कर सकते है। अगरबत्ती की मांग केवल देश में ही नहीं बल्कि विदेशी देशों में भी है, तो आप अपने अगरबत्ती व्यापार को विदेश में भी एक्सपोर्ट कर के चला सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस (Agarbatti Business) चलाने के टिप्स
  • अगरबत्ती को धूप में न सुखाएँ बल्कि उसे हवा में सुखाएँ।
  • अगरबत्ती व्यापार को पहले छोटे स्तर पर शुरू करें और कम मशीन के साथ अच्छा प्रॉफ़िट मिलने के बाद अपना बिजनेस बढ़ाएँ।
  • मसाला अगरबत्ती के साथ-साथ सेंट वाली अगरबत्ती भी बेचें क्योंकि सेंट वाली अगरबत्ती में प्रॉफ़िट ज्यादा होता है।
  • यह कोशिश करें कि अगरबत्ती व्यापार के शुरुआत में कम स्टाफ रखें।

Read More Post:-

Sanatan Dharm Ke 16 Sanskar in Hindi

आशा करते है कि आपको अगरबत्ती व्यापार के बारे में अच्छे से जानकारी मिल गयी है, कृपया इस उपयोगी जानकारी को अपने दोस्तों और संबंधियों के साथ साझा करें

Previous articleSanatan Dharm Ke 16 Sanskar in Hindi
Next articleBest 1000+ GK in Hindi Question Answer

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here